साहेबगंज

विदाई सह सम्मान समारोह के मौके पर पहुँचे जिला शिक्षा अधीक्षक

विदाई सह सम्मान समारोह के मौके पर पहुँचे जिला शिक्षा अधीक्षक

सहिबगंज जिला के सदर प्रखंड के अंतर्गत मध्य विद्यालय हाजीपुर दियारा अंचल साहिबगंज के प्रधान शिक्षक श्री चंद्रमा प्रसाद यादव जी 31.12.22 को सेवानिवृत्त हो चुके हैं इनके साथ उत्क्रमित उच्च विद्यालय दिहारी के शिक्षक श्री निर्दल कुमार चौधरी भी आज ही की तिथि में सेवानिवृत्त हुए हैं उधर सदर अंचल के ही बांग्ला बालक मध्य विद्यालय साहिबगंज की प्रभारी प्रधानाध्यापिका श्रीमती चंदना कुमारी सिंह का भी सेवानिवृत्ति आज ही हुआ है |आज मध्य विद्यालय हाजीपुर द्वारा के प्रांगण में शिक्षकों के विदाई सह सम्मान समारोह का आयोजन किया गया इस आयोजन के मुख्य अतिथि के रूप में जिला के जिला शिक्षा अधीक्षक श्री राजेश कुमार पासवान इस कार्यक्रम में उपस्थित रहे।

 

विदाई समारोह का शुभारंभ आदरणीय मुख्य अतिथि के द्वारा दीप प्रज्वलित करके किया गया । इस दीप प्रज्वलन कार्यक्रम में जिला शिक्षा अधीक्षक श्री राजेश पासवान के अतिरिक्त श्री भिखारी शाह श्री विनोद कुमार सिंह श्री विधु नाथ अचार्य श्री उज्जवल कुमार राय श्री उज्जवल कुमार बनर्जी श्रीमती डॉक्टर रानी झा श्री सुबोध झा विभीषण पासवान रमेश पासवान कुणाल कुमार मंडल राम प्रसाद पासवान छबिल पासवान श्री अशोक यादव जय प्रकाश बरनवाल सुमन जी ब्रजेश दुबे देव नारायण यादव राजेंद्र प्रसाद यादव एनोसेंट हासदा उर्दू उ म वि छोटी कोदर्जना सुभाष कुमार कुमारी कौशल्या सिंह ,कुमार स्वामी, ब्रहमदेव मंडल,प्रदीप कुमार ओझा इत्यादि लोगों की उपस्थिति में दीप प्रज्वलित किया गया।

आपको बताते चलें कि क्रिसमस के अवकाश के उपरांत विद्यालय छुट्टी होने के बाद भी विद्यालय के सैकड़ों की संख्या में छात्र छात्राओं ने अपने आदरणीय गुरु जी के सेवानिवृत्ति के शुभ अवसर पर उपस्थित होकर उनको सम्मानित किया आपको यहां पर बताते चले कि मध्य विद्यालय हाजीपुर दियारा के छात्राओं द्वारा अतिथियों के स्वागत में अत्यंत मधुर गीत प्रस्तुत किया गया और वही कार्यक्रम समापन के क्रम में छात्राओं के द्वारा विदाई गीत का भी प्रस्तुति किया गया।

सर्वप्रथम इस कार्यक्रम के मंच संचालन के रूप में श्री राजीव कुमार मध्य विद्यालय किशन प्रसाद के शिक्षक ने अपनी भूमिका अदा किया वहीं पर बारी-बारी से कई वक्ताओं ने इस गमगीन विदाई समारोह पर अपनी अपनी बातों को रखा सबसे पहले श्री भिखारी शाह और बिधु नाथ आचार्य ने अपने संबोधन में कहा कि सेवानिवृत्ति एक प्राकृतिक रूप से निर्धारित गतिविधि और इसे हम जीवन में एक बार जरूर इसकी सामना करते हैं आज विभाग में कई प्रकार के अतिरिक्त कार्यों के दबाव के कारण शिक्षकों की सेवानिवृत्ति एक चुनौती भरा कार्य होता है।

फिर भी यह दोनों शिक्षक सफलतापूर्वक सेवानिवृत्त हो गए हैं साफ सुथरा स्वच्छ छवि के साथ सेवानिवृत्त हुए हैं इसलिए इनके दीर्घायु और स्वस्थ काया की कामना करता हूं वही अपने संबोधन में श्री विनोद कुमार सिंह ने कहां की चंद्रमा यादव और निर्मल कुमार चौधरी एक अत्यंत साफ-सुथरी छवि वाले कर्मठ शिक्षक रहे हैं इनकी सेवानिवृत्ति से विद्यालय समिति शिक्षा विभाग में इनकी कमी खलेगी उन्होंने कहा कि ऐसें शिक्षकों से हमें सीखने की आवश्यकता है।

आगे संबोधन में डॉक्टर रानी झा प्रभारी प्रधानाध्यापक मध्य विद्यालय राजस्थान में अपने संबोधन में कहा कि शिक्षक और छात्रों का मधुर संबंध और आदर्श प्रतीक के रूप में यह विद्यालय स्थापित है यहां के बच्चे और शिक्षक किस प्रकार मिलजुलकर विद्यालय के संचालन कर रहे हैं इसका झलक आज इस समारोह में देखने को मिल रहा है उन्होंने कहा कि हम शिक्षक दूसरों के प्रति समर्पित भावना से कार्य करते हैं और जरूरत है हमें समाज में सामाजिक पहचान के साथ अपने कार्य को आगे लेकर चलने का और आवश्यकता अनुसार हमें समाज से भी सहयोग मिलना चाहिए।

इस क्रम में विद्यालय में पढ़ने वाले वर्ग सात के छात्र के द्वारा भी अपने सेवानिवृत्त शिक्षक श्री चंद्रमा प्रसाद यादव के सम्मान में अपनी बातों को रखी गई इसके अतिरिक्त श्री बच्चन कुमार पाठक सेवानिवृत्त शिक्षक मध्य विद्यालय तलाब के द्वारा अपने संबोधन में श्री चंद्रमा प्रसाद यादव को एक सफल और आदर्श शिक्षक बताया गया उन्होंने कहा कि श्री यादव एक कर्मठ और लगन शील शिक्षक रहे हैं इनकी भरपाई दोबारा करना असंभव होगा वही श्री पाठक ने कार्यक्रम के मुख्य अतिथि और विभाग के पदाधिकारी को सेवानिवृत्ति के बाद शिक्षकों के साथ होने वाली विभागीयपरेशानी से अवगत कराया

और कहा कि जिस सम्मान से हम इन्हें विदाई दे रहे हैं उसी सम्मान के साथ इनके अंतिम भुगतान संबंधी कार्य को भी प्राथमिकता के आधार पर किया जाना चाहिए तब हम इन्हें सच्ची विदाई देना सार्थक और सफल करने के लिए आगे इस सभा को संबोधित करते हुए सदर प्रखंड के प्रखंड साधन सेवी श्री माखनलाल यादव ने बताया कि शिक्षक की पदवी मिलना एक अपने आप में महान उपलब्धि है शिक्षकों के द्वारा दी गई ज्ञान अमर ज्ञान होती है जो हमेशा संसार में और इस ब्रह्मांड में घूमते रहती है श्री यादव के द्वारा बताया गया कि श्री चंद्रमा प्रसाद यादव की सेवा काल एक मैराथन पारी के रूप में रही है और इस क्रम में श्री यादव शिक्षक का सर्वोत्तम पुरस्कार जो महामहिम राष्ट्रपति द्वारा प्रदत होता है उस सामान को भी उनके द्वारा पूर्व में प्राप्त किया गया है जो एक गौरव की बात है उन्होंने अपने संबोधन में कहा कि हमें महापुरुषों और अपने गुरु के बताए मार्ग पर चलना चाहिए और इस मार्ग पर चलकर हम सफल हो सकते हैं।

अंत में कार्यक्रम के मुख्य अतिथि जिला शिक्षा अधीक्षक साहिबगंज के द्वारा अपने संबोधन में बताया गया कि इस विद्यालय में शिक्षकों और छात्रों के जो आपसी संबंध देखने को मिल रहे हैं इससे यह बात साबित होती है कि श्री चंद्रमा प्रसाद यादव विद्यालय के प्रति हमेशा समर्पण भाव से काम किया है विद्यालय के बच्चों को एक अच्छी परवरिश इनके द्वारा दी गई है ।

ऐसे शिक्षक हमेशा समाज में एक मिसाल के रूप में कायम हो जाते हैं मुख्य अतिथि के द्वारा सेवानिवृत्त शिक्षक को दीर्घायु और स्वस्थ काया कामना के साथ उनसे आग्रह किया कि आप स्थानीय हैं इसलिए जरूर बीच-बीच में आप अपने फुलवाड़ी स्वरूप इन नन्हे मुन्ने बच्चों से मिलते रहेंगे और आपका मार्गदर्शन इसके बाद ही विद्यालय को मिलता रहे इसके अतिरिक्त सेवानिवृत्त शिक्षक श्री चंद्रमा प्रसाद यादव और श्री चौधरी के द्वारा भी मंच से अपनी बात रखी गई अंत में शिक्षक दोनों को कई प्रकार के फूल माला चादर गिफ्ट इत्यादि भेंट स्वरूप शिक्षकों छात्रों एवं विद्यालय परिवार द्वारा दी गई इस मौके पर स्थानीय जनप्रतिनिधि के रूप में श्री अजय यादव और मनोज झा समेत कई गणमान्य लोग उपस्थित रहे।

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
×